Rahim ke Dohe (with meaning ) /रहीम के दोहे (अर्थ सहित)

रहीम ने अपने दोहों में महान क्रांतिकारी अनुभवों का वर्णन किया है. सभी धर्मों , पंथों , वर्गों में प्रचलित कुरीतियों पर उन्होंने मर्मस्पर्शी प्रहार किया है तथा धर्म के वास्तविक स्वरुप को उजागर किया हैं। इसी कारण उनके दोहे आज भी जीवंत एवं प्रभावोत्पादक हैं।

रहीम के 300+ दोहे निम्नांकित 10 खंडों में पठनीय हैं।